Disadvantages of doing LED bulb business

 एलईडी बल्ब बिजनेस करने के नुकसान -


आप सभी को तो पता ही होगा कि हमारे घर में यदि उजाला ना हो तो हमारा घर एकदम सुना सुना लगता है और इसी उजाले को पूरा करती है हमारे घर में लगे हुए बल्ब | और आजकल सभी लोग एलईडी बल्ब लेना और अपने घर में लगाना पसंद करते हैं और इसीलिए एलईडी बल्ब बिजनेस का कारोबार बहुत ही तेजी से बढ़ रहा है और इसमें बहुत सारे लोग अपना बिजनेस स्टार्ट भी कर रहे हैं लेकिन उनको इस बिजनेस के नुकसान के बारे में किसी ने नहीं बताया और इसीलिए बहुत सारे लोग इस बिजनेस को शुरू करने के बाद इसमें भारी नुकसान झेलते हैं | 


तो इस आर्टिकल में! मैं आपको एलईडी बल्ब बिजनेस करने के कुछ नुकसान के बारे में बताऊंगा तो इस आर्टिकल को पूरा पढ़िए गा ताकि आपको भी एलईडी बल्ब बिजनेस करने के नुकसान के बारे में पता चल सके | 



एलईडी बल्ब बिजनेस में है बहुत कंपटीशन -


एलईडी बल्ब बिज़नेस इसमें बहुत ज्यादा कंपटीशन है और यही बात सभी लोगों को पता नहीं होती है जिस वजह से वह इस बिजनेस को करने लगते हैं और बाद में भारी नुकसान झेलते हैं | और इसमें कंपटीशन होने की यही वजह है कि इसकी बहुत ज्यादा डिमांड होती है और बहुत बड़ी-बड़ी ब्रांड एलईडी बल्ब बनाती हैं जिससे इसमें कंपटीशन बहुत ज्यादा बढ़ जाता है और यदि कोई इसे छोटे स्केल से स्टार्ट करना चाहे तो उसके लिए बहुत ज्यादा मुश्किलों का सामना करना पड़ता है |



गलत जगह से रॉ मटेरियल लेना -


यदि आप एलईडी बल्ब का बिजनेस स्टार्ट करते हैं तो इसके लिए आपको सबसे पहले रो मटेरियल की जरूरत होती है और उसके साथ कुछ मशीनों की भी जरूरत होती है | लेकिन सबसे बड़ी गलती लोग यहीं पर कर देते हैं क्योंकि वह कुछ कंपनियों से बात करते हैं जो उन्हें सस्ते दाम पर रो मटेरियल प्रोवाइड करती है लेकिन बहुत से लोगों को पता नहीं होता है कि कंपनी उनके साथ धोखा कर रही हैं और उन्हें खराब सामान दिया जाता है जिस वजह से उनका बिजनेस शुरू से ही खराब हो जाता है और उनको बहुत ज्यादा नुकसान हो जाता है |



एलईडी बल्ब रिपेयरिंग का होता है एक्स्ट्रा खर्चा -


जब आप एलईडी बल्ब का बिजनेस स्टार्ट करते हैं और यदि आप अच्छा सामान भी ले लेते हैं और आपका बिजनेस अच्छे से स्टार्ट भी हो जाता है तो इसके बाद आपको उसमें एक और परेशानी देखने को मिलती है जो की होती है बल्ब रिपेयरिंग की | क्योंकि जब भी आप कभी बल्ब बेचते हैं तो आप उसकी कुछ गारंटी देते हैं और इसीलिए इनमें से कुछ बल्ब खराब होकर वापस आते हैं और आपको इनको रिपेयर भी करना होता है और इसीलिए एलईडी बल्ब बिजनेस में रिपेयरिंग का खर्चा एक्स्ट्रा होता है जो आपको बिजनेस स्टार्ट करने से पहले पता नहीं होता है और बाद में आपके एक्स्ट्रा पैसे लग जाते हैं |



मार्केटिंग करने में आती है परेशानी -


आप जब भी कभी एलईडी का बिजनेस स्टार्ट करेंगे और यदि आप उसमें अच्छा रो मटेरियल ले लेते हैं और यदि आप उसमें मेंटेनेंस का खर्चा भी ऐड कर लेते हैं तो फिर उसके बाद भी आपको इसमें एक और दिक्कत आने वाली है क्योंकि इसमें सबसे बड़ी दिक्कत होती है मार्केटिंग की | जैसा की आप सभी को पता ही है कि एलईडी बल्ब की बहुत सारी बड़ी-बड़ी ब्रांड पहले से ही मौजूद हैं और इसीलिए आपको आपके प्रोडक्ट को सेल करने में और उसकी मार्केटिंग करने में काफी ज्यादा मुश्किलों का सामना करना होता है |


क्योंकि आपको बड़ी-बड़ी ब्रांड के एलईडी बल्ब से ज्यादा अच्छे बल्ब बनाने होते हैं और वह भी उनसे कम दाम में और इसीलिए एलईडी बल्ब बिजनेस में ज्यादा लोगों को सफलता नहीं मिलती है और यदि आप एलईडी बल्ब बिजनेस करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको किसी भी बड़ी कंपनी की फ्रेंचाइजी लेनी चाहिए इससे आपको बहुत ज्यादा फायदा होता है और यह खुद का प्रोडक्ट बनाने से ज्यादा फायदेमंद होता है |



एलईडी बल्ब बिजनेस करना चाहिए या नहीं -


तो यदि हम बात करें कि आपको एलईडी बिजनेस करना चाहिए या फिर नहीं तो इसका सही सा जवाब होगा कि यदि आपके पास एलईडी बल्ब के बिजनेस के बारे में अच्छी नॉलेज है तो आपको यह बिजनेस जरूर करना चाहिए | लेकिन यदि आपको इस बिजनेस के बारे में कुछ भी नहीं पता है तो आपको इस बिजनेस को नहीं करना चाहिए क्योंकि किसी भी बिजनेस को करने से पहले उस बिजनेस की नॉलेज होना जरूरी है और यदि मैं एलईडी बिजनेस की बात करूं तो उसके फायदे तो आपको कोई भी बता देता है और मैंने आपको इस आर्टिकल में उसके सारे नुकसान भी बता दिए हैं तो आपके सामने सारी बातें आ चुकी है | तो अब आपको ही डिसाइड करना है कि आपको एलईडी बल्ब बिजनेस को स्टार्ट करना है या फिर नहीं क्योंकि इसमें आप ही पैसे इन्वेस्ट करते हैं |

Newest Older

Related Posts

Post a Comment

Subscribe Our Newsletter